what is Digi Yatra
Spread the love

Digi Yatra kya hai,Digi yatra app, Digital yatra, Digi yatra registration,Digi Yatra Id,Didi yatra UPSC,Digi Yatra airport,Digi Yatra 2022

मानव जीवन में सबसे मूल्यवान समय है, आज के भागदौड़ से भरे हुए इस व्यस्त जीवन में समय का बहुत महत्व है। समय के महत्व को देखते हुए अनेक तकनीकी अविष्कार किए गए जो हमारे समय की बचत करते हैं।
उदाहरणस्वरूप, पहले के समय में एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने में काफी समय लगता था, परंतु वर्तमान समय में तकनीकी विकास के कारण उपलब्ध सबसे तेज गति के परिवहन साधन हवाई मार्ग से कुछ ही घंटों में दुनिया की एक छोर से दूसरे छोर पर जा सकते हैं, यह साधन हमारे परिवहन समय को काफी कम कर दिया।

परंतु हवाई यात्रा में भी सुरक्षा संबंधी, दस्तेवाज जांच, पहचान जांच, अन्य कागज की जांच, बार बार पहचान की जांच, जरूरी कागज का भूल जाना इत्यादि के लिए काफी समय लगता है जो एक परेशानी का कारण बनता है, यही सब को देखते हुए भारत सरकार ने एक नई ऐप को लांच किया। आइए इसके बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हैं।

Knowledge Media

भारत सरकार ने एक डिजिटल ऐप लॉच जिसका नाम Digi yatra है , जिसे हम डिजिटल यात्रा भी कह सकते हैं।
इसके जरिए यात्री बिना किसी दस्तावेज के भी हवाई यात्रा कर सकते हैं।

यह ऐप हवाई अड्डा में प्रवेश, सुरक्षा जांच एवं विमान में प्रवेश के समय होने वाले जांच में सुविधा प्रदान करेगा। इसके साथ ही हवाई अड्डा को छोड़ने से समय होने वाले जांच में भी सुगमता प्रदान करेगा।

डीजी यात्रा क्या है ?(what is Digi Yatra)

डीजी यात्रा भारत सरकार द्वारा एक नई पहल है, जिसके जरिए यात्री हवाई यात्रा के दौरान बिना किसी दस्तावेज के चेहरे की पहचान प्रणाली(Face Recognization Technology)का उपयोग करके अपनी यात्रा पूरी कर सकते हैं।

इसकी शुरुआत 1 दिसंबर 2022 को नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जी के द्वारा बैंगलोर एवं वाराणसी के हवाई अड्डे से किया गया।

इन तकनीकों के जरिए हवाईअड्डे में प्रवेश, सुरक्षा जांच, विमान में सवार होने सहित सभी चौकियों पर यात्रियों के प्रवेश को चेहरे की पहचान प्रणाली पर स्वचालित रूप से संपादित किया जाएगा।

Join Our Telegram GroupCLICK HERE
Join Our WhatsApp GroupCLICK HERE

चेहरे की पहचान प्रणाली क्या है ? (What Is Face Recognization Technology)

  • यह एक ऐसी तकनीक है जिससे चेहरे के जरिए व्यक्ति की पहचान की जा सकती है।
Knowledge Media
  • इस तकनीक से हम फोटो, वीडियो या रीयल टाइम में लोगों की पहचान कर सकते हैं।
  • अधिकांश चेहरे की तकनीक 3डी छवि के बजाय 2D पर निर्भर करती है, क्योंकि यह सार्वजनिक तस्वीरों या डेटाबेस में मौजूद तस्वीरों के साथ 2डी छवि का अधिक आसानी से मिलान कर सकती है।
    चेहरा पकड़ने की प्रक्रिया व्यक्ति के चेहरे की विशेषताओं के आधार पर एनालॉग जानकारी को डिजिटल जानकारी के एक सेट में बदल देती है।
  • सॉफ्टवेयर आपके चेहरे के आकार को पढ़ता है, जिसमें आपकी आंखों के बीच की दूरी, आपके आंख सॉकेट की गहराई, माथे से ठुड्डी तक की दूरी, आपके चीकबोन्स का आकार और होंठ, कान और ठुड्डी का रूपरेखा शामिल है।

इसमें कौन-कौन से हवाई अड्डे और विमान सेवाएं शामिल है? (which Airport and Airlines are Included)

यह सुविधा दिल्ली टर्मिनल 3, बेंगलुरु और वाराणसी हवाई अड्डे पर घरेलू उड़ान लेने वाले यात्रियों के लिए उपलब्ध होगी |
मार्च में डीजी यात्रा के जरिए चार नए हवाई अड्डे भी जोड़े जाएंगे,आने वाले समय में इसका लाभ आप भारत के किसी भी हवाई अड्डे में उठा सकते हैं।

डीजी यात्रा का लाभ आप Air India, Vistara और IndiGo इन तीन एयरलाइंस के जरिए उठा सकते हैं।
Spice Jet ,Go First और Akasa Air ने अभी तक डिजी यात्रा की सुविधा नहीं दी है।

डीजी यात्रा का इस्तेमाल कैसे करें ? How to Use Digi Yatra (Login,Sign up)

  • इसका इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले आपको अपने फोन पर प्ले स्टोर से Digi Yatra App डाउनलोड करना होगा।
  • हवाई यात्री निम्नलिखित जानकारी नाम, ई-मेल आईडी, मोबाइल नंबर, पहचान का विवरण (वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड आदि) प्रदान करके अपनी डिजी यात्रा आईडी बना सकते हैं।
  • मांगी गई दस्तावेज जमा करने के बाद आपकी डीजी यात्रा आईडी बन जाएगी।
  • इस डीजी यात्रा आईडी का इस्तेमाल आप किसी भी फ्लाइट टिकट बुक करने के लिए कर सकते हैं। डीजी यात्रा सहित आपका सारा डाटा एयरलाइंस द्वारा प्रस्थान हवाई अड्डे पर भेज दिया जाएगा।
  • हवाई यात्रियों को विशेष रूप से अपनी पहली यात्रा पर पहचान सत्यापन के लिए हवाई अड्डे पर पंजीकरण क्षेत्र में जाना होगा।
  • अगर आप पंजीकरण के समय आधार कार्ड देते हैं, तो आपकी वेरिफिकेशन ऑनलाइन हो जाएगी, क्योंकि उसमें पहले से आपकी बायोमेट्रिक जानकारी जुड़ी होती है ,लेकिन अगर आप दूसरी दस्तावेज जमा करते हैं तो सीआईएसफ CISF द्वारा आपका जांच किया जा सकता है।
  • सारी वेरिफिकेशन होने के बाद हवाई अड्डे पर आपकी फोटो ली जाती है, जिससे आपके डीजी यात्रा प्रोफाइल में अपडेट कर दिया जाता है।
  • डीजी यात्रा के जरिए अगर आप दोबारा बुकिंग करते हैं तो यह प्रक्रिया आपको फिर से दोहराना नही पड़ेगा।

बोर्डिंग सुविधा के दौरान डिजी यात्रा आईडी का उपयोग कैसे करें? (How to use Digi Yatra ID during boarding Facility)

  • डिजी यात्रा आईडी के सत्यापन के बाद, डिजी यात्रा आईडी वाले यात्रियों के बोर्डिंग के लिए समर्पित हवाई अड्डे पर ई-गेट में प्रवेश करें।
  • अब मोबाइल बोर्डिंग के लिए अपना बोर्डिंग पास साझा करें और स्कैन करें।
  • स्कैन करने के बाद, अपनी पहचान और ई-गेट कैमरे में स्थापित चेहरे की पहचान प्रणाली को सत्यापित करें।
  • सफल सत्यापन के बाद ई-गेट खुल जाएगा और आप एयरपोर्ट में प्रवेश कर सकेंगे।
  • टर्मिनल में आने के बाद, अपना सामान चेक-इन डेस्क पर छोड़ दें और फिर डिजी यात्रा गेट की ओर बढ़ें।
  • आपको चेहरे की पहचान प्रणाली स्थापित ई-गेट कैमरे का उपयोग करके अपनी पहचान को फिर से सत्यापित करने की आवश्यकता होगी।
  • सफल सत्यापन के बाद, आपको सुरक्षा जांच की अनुमति देने के लिए ई-गेट खुल जाएगा।

डीजी यात्रा के फायदे क्या है ?(what are the benefits of Digi Yatra)

  • बिना किसी दस्तावेज के चेकिंग से यात्रियों के आवागमन में तेजी आएगी।
  • यह प्रणाली संपर्क रहित और कागज रहित होगी, जिससे परेशानी मुक्त यात्रा का अनुभव होगा।
  • यात्रियों को किसी भी प्रकार की आईडी या बोर्डिंग पास की आवश्यकता किसी भी चेकप्वाइंट पर नहीं होगी।
  • हवाई अड्डे की चेक-इन समय में भी कमी आएगी।
  • ऐप सुरक्षा को संभालने में पीएनआर के साथ हवाई यात्री को ट्रैक करेगा।
  • इसके जरिए प्लेन हाईजैकिंग जैसी घटनाएं पर रोक लगेगी और हवाई सुरक्षा भी मजबूत होगी।

डीजी यात्रा के स्टेकहोल्डर कौन है?(Stake Holders Of Digi Yatra)

इस प्रोजेक्ट का कार्यान्वयन डीजी यात्रा फाउंडेशन द्वारा किया जाता और इसके शेयर होल्डर अनेक कंपनी है जिसमें एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के पास 26% शेयर है, बचे हुए 74% शेयर बेंगलुरु एयरपोर्ट, दिल्ली एयरपोर्ट ,हैदराबाद एयरपोर्ट ,मुंबई एयरपोर्ट और कोचीन एयरपोर्ट के पास बराबर हिस्से में है।

इस ऐप को दी गई जानकारी कितनी सुरक्षित है ? (How Safe your Data Is)

अगर बात करें आपकी दस्तावेज से जुड़ी जानकारी जो आपने इस ऐप को दी है, उसकी सुरक्षा की तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि बताया गया है की आपकी दस्तावेज की जानकारी किसी भी सेंट्रल सिस्टम में स्टोर नहीं की जा रही है, यह सारी जानकारी आपके फोन में ही रहेगी और आपकी हवाई प्रक्रिया के 24 घंटे बाद इसे सेंट्रल सिस्टम से मिटा दिया जाएगा।

हम आशा करते हैं कि यह लेख आपको पसंद आई होगी, अगर हमसे कुछ गलती हुई हो तो हमें कमेंट में जरूर बताएं |इसी तरह की जानकारी पाने के लिए आप हमारे टेलीग्राम और व्हाट्सएप पर ज्वाइन हो सकते हैं |

इन्हें भी पढ़ें :- Corona Virus( Covid -19) Omicrone के BF.7 वेरिएंट ने चीन में मचाई तबाही

Chat Gpt Kya Hai और कैसे काम करता है

UPSC CDS Bharti 2023 :यूपीएससी सीडीएस के अनेकों पदों पर भर्ती ,जल्द आवेदन करें

Important Links :-

Join Our Telegram GroupCLICK HERE
Join Our WhatsApp GroupCLICK HERE

FAQ

डीजी यात्रा का उपयोग हम कैसे कर सकते हैं ?

इसका उपयोग हम डीजी यात्रा ऐप के जरिए कर सकते हैं | इस ऐप में साइन इन करने के बाद डीजी यात्रा आईडी के जरिए हम इसका उपयोग किसी भी हवाई यात्रा के दौरान कर सकते हैं |

डीजी यात्रा ऐप कहां से डाउनलोड कर सकते हैं ?

इस ऐप को आप अपने प्ले स्टोर या एप स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं |

डीजी यात्रा की शुरुआत कब की गई ?

इसकी शुरुआत 1 दिसंबर 2022 को नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जी के द्वारा बैंगलोर एवं वाराणसी के हवाई अड्डे से किया गया।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *